रेसिस्टेन्स नियम (Resistance Low)

Advertisements

रेसिस्टेन्स नियम (Resistance Low)

 

Advertisements
किसी चालक का रेसिस्टेन्स निम्न तीन कारको पर निर्भर करता है
  1. चालक की लम्बाई R L
  2. चालक का कटाक्ष क्षेत्र R  1/ A
  3.  चालक के पदार्थ का स्पेसिफिक रेसिस्टेन्स ρ (rho)

 

R =  चालक का रेसिस्टेन्स ओम में
L =  चालक की लम्बाई इकाई में
A =  चालक का कटाक्ष क्षेत्रफल वर्ग इकाई में
ρ  =  (rho) रहो चालक का स्पेसिफिक रेसिस्टेन्स ओम / इकाई में

स्पेसिफिक रेसिस्टेन्स ( Specific Resistance)

 

किसी चालक के एक सेमी. लम्बे और एक वर्ग सेमी. कटाक्ष क्षेत्रफल ( Cross-sectional area) वाले टुकड़े का रेसिस्टेन्स उस चालक पदार्थ का स्पेसिफिक रेसिस्टेन्स कहलाता है इसे ओमसेन्टीमीटर में व्यक्त किया जाता है। इसे रेसिस्टिविटी (Resistivity) भी कहते है।

 

रेसिस्टेन्स नियम (Resistance Low)
Specific Resistance

 

 L =  1 सेमी.
A =   1वर्ग सेमी.
ρ  =   R ओमसेन्टीमीटर

रेसिस्टेन्स नियम (Resistance Low)

TABLE :- Specific Resistance
क्रमांक
पदार्थकानाम
स्पेसिफिकरेजिस्टेंसओमसेमी. में 20°C
1
चांदी    (Silver)
1.64 X 10-6
2
ताँबा   (Copper)
1.72 X 10-6
3
एल्यूमीनियम (Aluminium)
2.69 X 10-6
4
टंगस्टन  (Tungsten)
5.51 X 10-6
5
लोहा    (Iron)
10.0 X 10-6
6
प्लैटीनम   (Platinum)
11.0 X 10-6
7
सीसा   (Lead)
22.6 X 10-6
8
मैगनिन   (Mangnin)
40.0 X 10-6
9
यूरेका   (Eureka)
49.0 X 10-6
10
कार्बन   (Carbon)
70.0 X 10-6
11
पारा   (Mercury)
95.8 X 10-6
12
   नाइक्रोम   (Nichrome)
108.5 X 10-6
Advertisements

NOTE :- MKS प्रणाली में उपरोक्त मानो के साथ 10-6 के स्थान पर   10-8 प्रयोग किया जाता है।

    दोस्तों अगर हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी और उपयोगी लगी है तो आपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। और पोस्ट को  Like और Share जरूर करे । और इलेक्ट्रॉनिक्स की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग www.electronicgyan.com को फॉलो करे.