कैपेसिटर के चुनाव के समय ध्यान देने योग्य तथ्य

Advertisements
हेल्लो दोस्तों 
आज आप को बताते है की कैपेसिटर लेते समय कौन-कौन सी बातो का ध्यान रखे। 

कैपेसिटर के चुनाव के समय ध्यान देने योग्य तथ्य (Factors to be Observed while choosing a capacitor)

किसी सर्किट के लिए कैपेसिटर का चुनाव करते समय निम्लिखित तथ्यो की ओर ध्यान दिया जाता है 
कैपेसिटर के चुनाव के समय ध्यान देने योग्य तथ्य
1- वर्किग वोल्टेज (Working Voltage)– कैपेसिटर की वर्किग वोल्टेज, सर्किट वोल्टेज से 10% से 20% तक अधिक होनी चाहिए
2- कैपेसिटेन्स (Capacitance)– कैपेसिटर का कैपेसिटी मान आवश्यक मान के बराबर या उसके निकटतम होना चाहिए।
3- डाइलैक्ट्रिक की किस्म (Type of Dielectric)-कोई कैपेसिटर किस डाइलैक्ट्रिक का होना चाहिए यह सर्किट की फ्रीक्वेन्सी पर निर्भर करता है।
  1. फ़िल्टर सर्किट 50 Hz के लिए पेपर तथा इलैक्ट्रोलाइटिक कैपेसिटर।
  2. . एफ.  (20 kHz तक) के लिए पेपर, माइक तथा सैरामिक कैपेसिटर
  3. आर.एफ. (20 kHz से अधिक) के लिए माइक, सैरामिक, एयर तथा वैक्यूम डाइलैक्ट्रिक कैपेसिटर।

 

Advertisements
4- सर्किट की आवश्यकता (circuit’s Requirement)- सर्किट की आवश्यकता के अनुसार स्थिर मान समायोजनीय मान या परिवर्ती मान का कैपेसिटर प्रयोग किया जाता है।
5- मूल्य (Price)- आमतौर पर इन कैपसिटर्स का मूल्य काम होता है इलैक्ट्रोलाइटिक, सैरामिक, माइक, पेपर आदि। अतः कैपेसिटर के चुनाव में उसके मूल्य का भी महत्व होता है।
दोस्तों अगर हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी और उपयोगी लगी है तो आपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। और पोस्ट को   Like और Share जरूर करे । और इलेक्ट्रॉनिक्स की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग www.electronicgyan.com को फॉलो करे.