ट्रांसिस्टर इलैक्ट्रोड्स की पहचान करना

Advertisements

ट्रांसिस्टर इलैक्ट्रोड्स की पहचान सामान्यतः ट्रांसिस्टर में तीन इलैक्ट्रोड्स होते है- 1 बेस 2 कलैक्टर 3 एमीटर परन्तु कुछ आर० एफ० ट्रांसिस्टर्स में चार इलैक्ट्रोड्स भी होते है। यह चौथा इलैक्ट्रोड शील्ड कहलाता है। जैसे 2SB75, 2SB 234, 2SA 334 आदि। हितैची (जापान) कम्पनी के ट्रांसिस्टर्स में तथा BEL कम्पनी के AF 115, AF 116, आदि ट्रांसिस्टर्स में चार वायर होते है। इनमे हितैची कम्पनी के ट्रांसिस्टर्स में नीचे से देखने पर एमीटर बाये कलैक्टर दाँये, शील्ड बीच में तथा शील्ड तार के ठीक सामने बेस होता है। परन्तु BEL कम्पनी के ट्रांसिस्टर्स में सभी तार एक सीध में होते है तथा नीचे से देखने पर बाये से एमीटर बेस शील्ड तथा दाँये हाथ पर कलैक्टर होते है।

Advertisements

 

 

ट्रांसिस्टर इलैक्ट्रोड्स की पहचान करना:

ट्रांसिस्टर इलैक्ट्रोड्स
Transistors
इन्हे भी देखे। 

 




Advertisements

 

BEL कम्पनी के AC 127/128, AC 187/188 आदि जर्मेनियम ट्रांसिस्टर्स में तीन इलैक्ट्रोड्स होते है। इनमे कलैक्टर के पास डॉट अथवा ऐरो का निशान बना रहता है। नीचे से देखने पर बाये एमीटर, बीच में बेस तथा दाँये कलैक्टर होता है इसी प्रकार से BEL के BC 147, BC 148, BC 157, BC 158, आदि ट्रांसिस्टर में नीचे देखने पर यदि बेस को ऊपर की तरफ तथा ट्रांसिस्टर के प्लेन भाग को अपनी ओर रखे तो बायीं ओर एमीटर बीच में बेस तथा दायीं ओर कलैक्टर होगा। परन्तु BEL कम्पनी के आर० एफ० ट्रांसिस्टर्स BF 194, BF 195, आदि में एमीटर बीच में तथा बायीं ओर बेस और दायीं ओर कलैक्टर होता है। पावर ट्रांसिस्टर्स जैसे– B4205, B4208, 2N3501 आदि में ट्रांसिस्टर की मैटेलिक बॉडी का प्रयोग कलैक्टर के रूप में तथा ट्रांसिस्टर के बायीं ओर ऊपर बेस व् नीचे एमीटर होते है। पावर ट्रांसिस्टर्स की बॉडी को हीट सिंक के साथ कस दिया जाता है। जिससे ट्रांसिस्टर में उत्पन अतिरिक्त हीट इसमे ट्रान्सफर हो जाती है

दोस्तों अगर हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी और उपयोगी लगी है तो आपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। और पोस्ट को Like और Share जरूर करे । और इलेक्ट्रॉनिक्स की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग www.electronicgyan.com को फॉलो करे.