फिल्टर सर्किट

Advertisements

आवश्यकता –किसी रेक्टिफायर सर्किट के आउटपुट में डी०सी० के साथ साथ ए०सी० रिपिल्स भी विधमान होते है । शुद्ध डी०सी० प्राप्त करने के लिए आउटपुट में उपलब्ध करंट में से ए०सी० रिपिल्स को दूर करना आवश्यक है । इसी प्रकार दो या दो से अधिक सर्किट्स से बने सयुक्त सर्किट में कई प्रकार की करंट विधमान हो सकती है जैसे डी०सी०; 50 साइकिल्स की ए०सी०; ए०एफ० करंट,आर०एफ० करंट। अतः सर्किट में किसी बिन्दु पर उपरोक्त प्रकार की करंट्स में से एच्छिक प्रकार की करंट को पृथक करने के लिए किसी युक्ति का होना आवश्यक है और यह युक्ति है फिल्टर सर्किट ।

Advertisements

 

इस प्रकार फ़िल्टर सर्किट वह युक्ति है जो विभिन्न प्रकार की करंट्स में से एच्छिक प्रकार की करंट को पृथक कर दे।

इन्हे भी देखे 

सिद्धान्त –फिल्टर सर्किट की कार्य प्रणाली निम्न सिद्धान्त पर आधारित है।

  • किसी इन्डक्टर द्वारा ए०सी० प्रवाह के लिए प्रस्तुत किया जाने वाला विरोध फ्रीक्वेंसी के अनुक्रमानुपाती होता है। अतः इन्डक्टर या चोक, डी० सी० के लिए बहुत कम पल्सेटिंग या निम्न फ्रीक्वेंसी ए०सी० के लिए अधिक रेडियो फ्रीक्वेंसी करंट के लिए बहुत अधिक विरोध प्रस्तुत करती है।
  • किसी कैपेसिटर द्वारा ए०सी० प्रवाह के लिए प्रस्तुत किया जाने वाला विरोध, फ्रीक्वेंसी के व्युत्क्रमानुपाती होता है अतः कैपेसिटर डी०सी०के लिए सवार्धिक पल्सेटिंग या निम्न फ्रीक्वेंसी ए०सी० के लिए कम और रेडियो फ्रीक्वेंसी करंट के लिए बहुत कम विरोध प्रस्तुत करती है।
  • सीरीज रेजोनेन्स सर्किट रेजोनेन्स फ्रीक्वेंसी तथा उसके ऊपर नीचे की फ्रीक्वेंसी के एक तंग समूह की करंट के लिए कम तथा अन्य सभी फ्रीक्वेंसीज की करंट के लिए बहुत एम्पीडेन्स प्रस्तुत करता है।
  • पैरेलल रेजोनेन्स सर्किट रेजोनेन्स फ्रिक्वेंसी तथा उसके ऊपर नीचे की फ्रीक्वेंसीज के एक तंग समूह के लिए बहुत अधिक तथा अन्य सभी फ्रीक्वेंसीज की करंट के लिए कम एम्पीडेन्स प्रस्तुत करता है
  • रेसिस्टर में स्वयं तो कोई फिल्टरेशन गुण नही होता है। परन्तु जब इसे किसी इन्डक्टर या कैपेसिटर के सीरीज में जोड़ दिया जाता है। तो यह सर्किट के एम्पीडेन्स में व्रद्धि कर देता है कुछ प्रकार के फिल्टर सर्किट्स में चोक के स्थान पर वायर वाउंड रेसिस्टर प्रयोग किया जाता है।

फिल्टर सर्किट (Filter Circuits)

फ़िल्टर सर्किट्स का वर्गीकरण (Classification of Filter Circuits)

Advertisements

कार्य के अनुसार (According to Work)

  • लो-पास (Low Pass)
  • हाई-पास (High-Pass)
  • बैंड-पास (Band-Pass)
  • बैंड-स्टाप (Band-Pass)
    1. लो-पास फिल्टर सर्किट (Low-Pass Filter circuit ) – जो फ़िल्टर सर्किट अपने में से निम्न फ्रीक्वेंसी करंट (प्राय 100 Hz तक ) को गुजरने दे और एक निश्चित मान से अधिक फ्रीक्वेंसी की करंट को न्यूनतम मान तक घटा दे वह लो पास फ़िल्टर सर्किट कहलाता है | सरल प्रकार के सर्किट में या तो एक इन्डक्टर सीरीज में और या एक कैपेसिटर समानान्तर में लगाया जाता है | केवल एक घटक वाला फ़िल्टर सर्किट उच्च फ्रीक्वेंसी करंट को तीव्रता से दुर्लब (Sharp Attenuation) नही करता अतः सीरीज इन्डक्टर तथा पैरेलल कैपेसिटर युक्त जटिल सर्किट उपयोग किये जाते है जटिल टी०, एल०, पाई या बहु खण्डीय प्रकार का हो सकता है | 
      फिल्टर सर्किट
      लो-पास फ़िल्टर सर्किट

       

    2. हाई-पास फ़िल्टर सर्किट (High-Pass Filter Circuit) – जो फ़िल्टर सर्किट एक निश्चित फ्रीक्वेंसी से अधिक मान की करंट को अपने में से गुजरने दे और उससे कम मान की करंट को न्यूनतम मान तक घटा दे वह हाई पास फ़िल्टर सर्किट कहलाता है | सरल प्रकार के सर्किट में या तो एक इन्डक्टर पैरेलल में या एक कैपेसिटर सीरीज में लगाया जाता है केवल एक घटक वाले सर्किट की अपेक्षा कई इन्डक्टर व कैपेसिटर युक्त जटिल सर्किट निम्न फ्रीक्वेंसी करंट को तीव्रता से दुर्लब कर देता है | जटिल सर्किट एल०, टी०, पाई या बहु खण्डीय प्रकार का हो सकता है |
      फिल्टर सर्किट
      हाई-पास फ़िल्टर सर्किट

       

    3. बैंड-पास फिल्टर सर्किट (Band-Pass Filter Circuit) – जो फ़िल्टर सर्किट अपने में से फ्रिक्वेंसीज के एक तंग समूह की करंट को गुजरने दे और इस तंग समूह से उपर निचे की फ्रिक्वेंसीज की करंट को न्यूनतम मान तक घटा दे वह बैंड-पास फ़िल्टर सर्किट कहलाता है सरल प्रकार के सर्किट में एक सीरीज रेजोनेन्स सर्किट श्रेणी में या एक पैरेलल रेजोनेन्सी सर्किट समानान्तर में लगाया जाता है अधिक प्रभावी फिल्टरेशन के लिए सीरीज और पैरेलल दोनों ही प्रकार के रेजोनेन्स सर्किट से युक्त जटिल फ़िल्टर सर्किट प्रयोग किये जाते है |
      फिल्टर सर्किट
      बैंड-पास फ़िल्टर सर्किट

       

    4. बैंड-स्टॉप फिल्टर सर्किट (Band-stop Filter Circuit) – जो फ़िल्टर सर्किट अपने में से फ्रिक्वेंसीज के एक तंग समूह की करंट को तो न्यूनतम मान तक घटा दे और इस तंग समूह से उपर निचे की फ्रिक्वेंसीज की करंट को गुजरने दे वह बैंड स्टॉप फ़िल्टर सर्किट कहलाता है| सरल प्रकार के सर्किट में एक पैरेलल रेजोनेन्स सर्किट, श्रेणी में या एक सीरीज रेजोनेन्स सर्किट, समानान्तर में लगाया जाता है, अधिक प्रभावी फिल्टरेशन के लिए सीरीज और पैरेलल दोनों ही प्रकार के रेजोनेन्स सर्किट से युक्त जटिल फ़िल्टर सर्किट प्रयोग किये जाते है |
      फिल्टर सर्किट
      बैंड-स्टॉप फ़िल्टर सर्किट

दोस्तों अगर हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छी और उपयोगी लगी है तो आपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे। और पोस्ट को Like और Share जरूर करे । और इलेक्ट्रॉनिक्स की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग www.electronicgyan.com को फॉलो करे.